My Education

पर्यायवाची शब्द (Paryayvachi Shabd) – 150+ महत्वपूर्ण समानार्थी शब्द

एक समान अर्थ प्रकट करने वाले शब्द एक-दूसरे के पर्यायवाची (Paryayvachi Shabd) या समानार्थी शब्द कहलाते हैं। इस पोस्ट में परीक्षा की दृष्टि से अ से ज्ञ तक महत्वपूर्ण समानार्थी शब्द छाँट कर दिए गए हैं जो आपके लिए उपयोगी साबित होंगे।

अ से ज्ञ तक पर्यायवाची शब्द के उदाहरण

अतिथि– मेहमान, अभ्यागत, आगन्तुक।

आग– अग्नि, ज्वाला, अनल, पावक।

अमृत– सुरभोग सुधा, सोम, पीयूष।

अनुपम– अपूर्व, अतुल, अनोखा, अनूठा, अद्वितीय।

अलंकार– आभूषण, भूषण, विभूषण, गहना, जेवर।

अहंकार– अभिमान, मद, घमंड, मान।

अंग– अंश, हिस्सा, भाग।

आत्मा– जीवात्मा, रूह, जीव, अंतरात्मा।

जंगल – अरण्य, वन, कानन, विपिन।

अनादर– अपमान, अवज्ञा, अवहेलना, तिरस्कार।

अंकुश– रोक, दबाव, नियंत्रण, पाबंदी।

परिणाम -अंजाम, नतीजा, फल।

अंत– समाप्ति, समापन।

अंतरिक्ष– गगनमंडल, आकाशमंडल, नभमंडल।

अंदर– भीतर, आंतरिक, अंदरूनी।

अंदाज– अटकल, अनुमान, कयास।

अंधा– सूरदास, नेत्रहीन, दृष्टिहीन।

आकाश– अंबर, आसमान, गगन, नभ।

जल– पानी, नीर, पय, वारी।

सूरज– सूर्य, रवि, दिनकर, भास्कर।

बुद्धि– अक्ल- प्रज्ञा, मति, विवेक।

ईश्वर– परमात्मा, परमेश्वर, भगवान, खुदा।

कठिन– अगम दुष्कर, दुःसाध्य, अगम्य।

विचित्र– अजीब, अदभुत, अनोखा, विलक्षण।

अच्छा– बढ़िया, बेहतर, उत्तम।

अनपढ़– अपढ़, निरक्षर, अशिक्षित,।

अजनबी– अनजान, अपरिचित।

स्थिर– अचल, अटल, अविचल, अडिग।

अनिवार्य– अत्यावश्यक, परमावश्यक।

अतीत– भूत, भूतकाल, गत, विगत।

अनमोल– अमूल्य, कीमती, बहुमूल्य।

अध्ययन– पढ़ना, पढ़ाई, पठन-पाठन, पठन।

अनाथ– लावारिस, बेसहारा, अनाश्रित।

अनुज– अनुभ्राता, छोटा भाई, कनिष्ठ।

आईना– दर्पण, शीशा।

आचार्य– शिक्षक, अध्यापक, प्राध्यापक, गुरु।

100 महत्वपूर्ण पर्यायवाची या समानार्थी शब्द

अभिनंदन– अभिवादन, स्वागत, सत्कार,।

आँख– लोचन, नैन, नयन, नेत्र, चक्षु, विलोचन।

असत्य– मिथ्या, झूठ, असत।

अर्चना– पूजा, आराधना, पूजन।

अनुमति– इजाजत, स्वीकृति।

अभद्र– असभ्य, अकुलीन, अशिष्ट।

अनुरोध– आग्रह, प्रार्थना विनय, विनती।

आनंद– हर्ष, सुख, आमोद, प्रसन्नता।

क्रोध– आक्रोश, रोष, कोप, रिष।

आशीर्वाद– शुभकामना, आशिष, दुआ।

इन्द्र– वज्रधर, वज्री, देवेन्द्र, देवराज, महेन्द्र।

इच्छा– अभिलाषा, कामना, लालसा, मनोरथ, आकांक्षा।

चाँद– चंद्रमा, चंदा, शशि।

इजाजत– स्वीकृति, मंजूरी, अनुमति।

आरोप– इलजाम लांछन, दोषारोपण।

ईमानदारी– सच्चा, सत्यपरायण, सत्यनिष्ठ।

ईर्ष्या– जलन, कुढ़न, विद्वेष।

उचित– ठीक, मुनासिब, न्यायसंगत, योग्य।

उजला– श्वेत, सफ़ेद, धवल, उज्ज्वल।

उत्पति– जन्म, सृष्टि, आविर्भाव, उदय।

उपाय– युक्ति, यत्न, तरकीब।

उत्साह– उमंग, जोश, उछाह।

उद्देश्य– मकसद, लक्ष्य, प्रयोजन।

उन्नति– तरक्की, प्रगति, विकास, उत्कर्ष।

उपहार– भेंट, तोहफा, नजराना।

उम्मीद– आशा, आस, भरोसा।

हृदय– दिल, उर, वक्षस्थल।

सुबह– उषा, भोर, भिनसार, ब्रह्ममुहूर्त।

कर्ज– ऋण, कर्जा, उधार, उधारी।

ऐश्वर्य– समृद्धि, विभूति।

ओस– नीहार, तुहिन, शबनम।

औरत– स्त्री, महिला, नारी, घरवाली।

औलाद– संतान, संतति, बाल-बच्चे।

कमल– कंज, पद्म, पंकज, नीरज, सरोज, जलज, जलजात।

किरण– रश्मि, मयूख, ज्योति, प्रभा।

कपड़ा– वस्त्र, चीर, वसन, अम्बर, परिधान।

किनारा– तट, तीर, कूल, कगार।

कण्ठ– गला, ग्रीवा, गर्दन, शिरोधरा।

कृपा– अनुकम्पा, दया, अनुग्रह।

कान– कर्ण, श्रवण, श्रोत, श्रुतिपुट।

निर्धन– कंगाल, गरीब, रंक, धनहीन।

सोना– कनक, कंचन, स्वर्ण।

सम्मान – कद्र- मान, इज्जत, प्रतिष्ठा।

कमजोर– निर्बल, बलहीन, दुर्बल, शक्तिहीन।

कष्ट– पीड़ा, वेदना, तकलीफ, दुःख।

कायर– डरपोक, कापुरुष, बुजदिल।

पुष्प– कुसुम, फूल, प्रसून, पुहुप।

शेर– सिंह, वनराज, मृगराज, मृगेंद्र।

कीर्ति– यश, ख्याति, प्रतिष्ठा, शोहरत, प्रसिद्धि।

खाना– भोज्य सामग्री, आहार, भोजन।

खौफ– डर, भय, दहशत, भीति।

खून– रक्त, लहू, शोणित, रुधिर।

गाय– गौ, धेनु, सुरभि, रोहिणी।

गाना– गान, गीत, नगमा, तराना।

गेहूँ– कनक, गोधूम, गंदुम।

गोद– अंक, क्रोड़, गोदी।

गाँव– ग्राम, देहात, पुरवा, टोला।

घटना– हादसा, वारदात, वाक्या।

घर– आलय, आवास, निकेतन, निलय, निवास, भवन, वास, वास-स्थान।

घटना– हादसा, वारदात, वाक्या।

चरण– पद, पग, पाँव, पैर, पाद।

चाँदी– रजत, सौध, रूपा, रूपक, रौप्य, चन्द्रहास।

चंदन– गंधराज, गंधसार, मलयज।

पत्र– चिट्ठी, पाती, खत।

छवि– शोभा, सौंदर्य, कान्ति, प्रभा।

छाती– सीना, वक्ष, उर, वक्षस्थल।

छतरी– छत्र, छाता, छत्ता।

संसार– विश्व, जग, जगती, भव, दुनिया, लोक।

जीभ– जिह्वा, रसिका, वाणी, वाचा, जबान।

जंगल– विपिन, कानन, वन, अरण्य, विटप।

जननी– माँ, माता, वालिदा।

जासूस– गुप्तचर, भेदिया, खुफिया।

50 Paryayvachi Shabd

जिंदगी– जिंदगानी, जीवन, हयात।

जिस्म– शरीर, काया, देह, बदन, वपु।

झरना– स्रोत, प्रपात, निर्झर, प्रस्त्रवण।

पाँव– टाँग, पैर, टंक।

ठंड– ठंड, शीत, सर्दी।

डर– दहशत, खौफ, भय, भीति।

तालाब– सरोवर, जलाशय, पोखरा, जलवान।

तुला– तराजू, काँटा, धर्मकाँटा।

थोड़ा– जरा, कम, अल्प, न्यून,।

थल– स्थान, स्थल, भूमि, जगह।

स्तम्भ– थंभ- खंभ, खंभा।

दास– नौकर, चाकर, सेवक, अनुचर।

दुःख– पीड़ा, कष्ट, व्यथा, वेदना।

देवता– सुर, देव, अमर, वसु, आदित्य, निर्जर।

दिन– दिवस, वार, प्रमान, वासर।

दीपक– दीप, दीया, प्रदीप।

दया– अनुकंपा, करुणा, कृपा, संवेदना, सहानुभूति, सांत्वना।

दिनकर– भास्कर, सूरज, सूर्य, भानु, दिवाकर, रवि।

धन– दौलत, संपत्ति, सम्पदा, वित्त।

धीरज– सब्र, संतोष, तसल्ली, धैर्य, दिलासा।

ध्वनि– स्वर, ताल, नाद, रव, आवाज।

ध्वज– झंडा, ध्वजा, केतन, केतु।

नर्क– नरक, यमलोक, यमपुर, यमालय।

नेत्र– आँख, चक्षु, लोचन, नयन, अक्षि, चख।

निंदा– बुराई, दोषारोपण, फटकार।

बेटी– पुत्री, अंगजा, तनुजा, सुता, दुहिता।

नियम– उसूल, सिद्धांत, विधि, रीति।

न्यौता– आमंत्रण, निमंत्रण, बुलावा।

निवेदन– विनय, विनती, प्रार्थना, गुजारिश।

निर्दयी– निर्मम, संगदिल, क्रूर, कठोर।

पत्नी– भार्या, वधू, अर्धांगिनी, गृहणी, बहु, वनिता, जोरू, वामांगिनी।

पर्वत– पहाड़, गिरि, अचल।

पुष्प– फूल, सुमन, कुसुम।

पिता– जनक, तात, पितृ, बाप।

पेड़– तरु, द्रुम, वृक्ष, पादप, रुक्ष।

राहगीर– पथिक, राही, यात्री, मुसाफिर, पंथी।

पवन– वायु, हवा, समीर, समीरण।

अनेक– बहुत, अनेक, अतीव, अति, बहुल, अत्यन्त, असंख्य।

बाल– केश, चिकुर, चूल।

बुड्ढा– वृद्ध, बूढ़ा, बुजुर्ग, वयोवृद्ध।

मछली– मीन, मत्स्य।

मेघ– घन, जलधर, बादल, पयोद, अम्बुद, पयोधर।

यकीन– भरोसा, ऐतबार, आस्था, विश्वास।

याद– स्मरण-शक्ति, स्मृति, स्मरण, सुध, याद्दाश्त।

युद्ध– संग्राम, लड़ाई, रण, द्वंद्व।

रात्रि– निशा, रैन, रात, यामिनी, रजनी, तमस्विनी, विभावरी।

विशाल– विराट, दीर्घ, वृहत, बड़ा, महान।

वसन्त– मधुमास, माधव, कुसुमाकर, ऋतुराज।

समूह– दल, झुंड, समुदाय, टोली।

हस्त– हाथ, बाहु, कर, भुजा।

Also read

error: Content is protected !!

Categories